तालाबों का सौंदर्यीकरण कराकर अमृत सरोवर के रूप में विकसित करें: ए0के0 शर्मा

उत्तर प्रदेश

लखनऊ: प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री श्री ए.के. शर्मा ने निकाय अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर समस्त नगरीय निकायों में चल रहे विकास कार्यों में और तेजी लाने तथा साफ़ सफ़ाई एवं स्वच्छता को और बेहतर बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी नगर आयुक्त, अधिशासी अधिकारी कार्यों की मॉनिटरिंग के लिए फील्ड में जाय।
नगर विकास मंत्री श्री ए.के. शर्मा ने आज अपने आवास से अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर नगरीय व्यवस्थापन के सम्बंध में जरूरी निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने स्वच्छता सर्वेक्षण, सिटी ब्यूटीफिकेशन, स्वच्छ त्यौहार, संचारी रोग और स्वच्छ वातावरण प्रोत्साहन समितियों के संबंध में विस्तृत चर्चा की।
नगर विकास मंत्री ने डेंगू, मलेरिया व वर्षा जनित रोगों से बचाव के लिए चिन्हित स्थानों पर फॉगिंग व एंटी लार्वा स्प्रे का नियमित छिड़काव कराने के भी निर्देश दिए। दैनिक सफाई के कार्य को और भी आगे बढ़ाते हुए मैन पावर के साथ-साथ मशीनों का उपयोग ज्यादा से ज्यादा करने के निर्देश दिए।
उन्होंने निकाय स्तर के सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आप अपने क्षेत्र में ऐसा लैंडमार्क स्थापित करें जो यादगार बन जाए। जैसे वेंडिंग जोन, पार्काे और चौराहों का सुंदरीकरण, गार्बेज वल्नरेबल पॉइंट के स्थानों पर पौधरोपण व वेंडिंग जोन, ओपन जिम व बैठने के उचित स्थान में परिवर्तित कर उन्हें निकाय की पहचान बनाने की कोशिश करें। नगर विकास मंत्री ने अमृतसर ओवरों पर भी निर्देश देते हुए कहा कि आपके क्षेत्र में जो भी तालाब है, उन्हें अमृत सरोवर के रूप में परिवर्तित कर उनका सुंदरीकरण कराएं। साथ ही उनकी फोटो केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही वेबसाइटों पर नियमित रूप से अपलोड करें और विभाग की वेबसाइट पर भी फोटो, वीडियो और उसके बारे में संक्षिप्त जानकारी अपलोड करें।
मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि हमें अपने क्षेत्र में गौशालयों का भी व्यवस्थापन सुदृढ़ रूप से कराना है। उन्होंने कहा कि 358 कान्हा गौशालाओं को पैसा स्वीकृत किया गया है, वहीं 261 स्थायी और 337 अस्थाई गौ आश्रय स्थल संचालित हैं। मंत्री जी ने कहा कि नगर आयुक्त व अधिशासी अधिकारी अपने क्षेत्रों की गौशालाओं में जाकर वहां के व्यवस्थापन के कार्य देखें और सभी व्यवस्थाओं को बेहतर तरीके से सुनिश्चित कराएं। स्थापित गौशालाओं का सुधार कराने और नयी गौशालाओं के निर्माण के सम्बन्ध आये प्रस्तावों की समीक्षा करते हुए नगर विकास मंत्री ने कहा की अधिकारी गौशालों पर जाकर गौवशों की संख्या के बारे में जानकारी करते हुए व्यवस्थाओं को सुनिश्चित कराये। नयी गौशालाओं के निर्माण के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए मंत्री श्री शर्मा ने कहा की सभी निकायों में गौशाला बनाना संभव नहीं है। दो या तीन निकायों को मिलाकर ऐसी जगह पर गौशाला का निर्माण करें जहां से निकायों के अन्ना पशुओं को गौशाला तक आसानी तक लाया जा सके। मंत्री श्री शर्मा ने अधिकारिओं से गौशाला के लिए 03 माह व 06 माह के चारे की एक बार में व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मंत्री जी ने कहा कि गौ सेवा एक बहुत ही पुनीत कार्य है, अधिकारियों को अपनी निर्धारित सेवाओं के साथ ही गौसेवा के कार्य में बढ़-चढ़ हिस्सा लें। मंत्री जी ने गौशालाओं के संचालन में जन-सहयोग लेने की भी सलाह दी। मंत्री ने कहा कि आपके निकायों या निगमों में गायों को गोद लेने के लिए आम-जनमानस को जागरूक करें। निकायों के अंतर्गत व्यापारियों और समृद्ध व्यक्तियों से चारा व चोकर को दान कराने व सहयोग लेने के लिए आग्रह भी करे।
समीक्षा के दौरान मंत्री श्री शर्मा ने पर्यटन स्थल वाली निकायों में सफाई व्यवस्था को और भी सुदृढ़ कराने के लिए निर्देश दिए. मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि इन क्षेत्रों में विशेष सफाई अभियान चलाकर सुंदरीकरण का भी कार्य कराया जाये। रोड के साथ गलियों में भी सफाई की स्थाई व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए नालियों और सड़कों को भी सही कराया जाए. मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि अयोध्या में श्री राम का भव्य मंदिर बनकर लगभग तैयार ही हो गया है। 06 माह के भीतर श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से खुल जाएगा। देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालू यहां की स्वच्छता और सुंदरता का बखान वैश्विक स्तर पर करें, हमें ऐसा कार्य करना चाहिए। मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण हमारे के लिए उस परीक्षा की तरह है, जिसकी तैयारी हम पूरे साल करते हैं. सभी अधिकारी और कर्मचारी फील्ड पर जाकर सफाई व्यवस्था और सुंदरीकरण कार्यों को सुनिश्चित कराकर जनता को जागरूक भी करें। जिससे आपके निकायों और निगमों की रैंकिंग में सुधार हो. सिटीजन फीडबैक को लेकर भी जनता को जागरूक करें, जिससे उनके नगर के बारे में उनकी राय देश-प्रदेश के अन्य लोगों तक भी पहुंचे।
समीक्षा बैठक के दौरान निदेशक नगरीय निकाय डा0 नितिन बंसल जी ने मंत्री जी के निर्देशों का पूर्णतः पालन कराने का आश्वासन दिया। इस दौरान अपर निदेशक डॉ असलम अंसारी, उपनिदेशक रश्मि सिंह, उपनिदेशक डॉ सुनील कुमार यादव, सभी नगर आयुक्त, अधिशासी अधिकारी एवं अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

Related posts

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More