16 C
Lucknow

भारत राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा अभ्यास 2023 का समापन: भारत की साइबर सुरक्षा तैयारियां एक नई ऊंचाई पर पहुंची

देश-विदेश

नई दिल्ली का प्रतिष्ठित स्कोप कन्वेंशन सेंटर, भारत राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा अभ्यास (एनसीएक्स) 2023 का साक्षी बना, जो 9 अक्टूबर से 20 अक्टूबर 2023 तक चलने वाला एक अत्यंत महत्वपूर्ण कार्यक्रम होने के साथ ही साइबर सुरक्षा में उत्कृष्टता के लिए भारत के दृढ़ प्रयासों में एक उल्लेखनीय उपलब्धि है।

इस प्रमुख कार्यक्रम ने सरकारी एजेंसियों, सार्वजनिक संगठनों और निजी क्षेत्र के विविध क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करने वाले 300 से अधिक प्रतिभागियों के लिए एक ऐसे के एकीकृत मंच के रूप में कार्य किया, जो महत्वपूर्ण सूचना बुनियादी ढांचे की सुरक्षा के लिए दृढ़ता से प्रतिबद्ध है।

भारत सरकार के राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय (एनएससीएस) द्वारा राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय (आरआरयू), भारत एनसीएक्स 2023 के साथ रणनीतिक साझेदारी में आयोजित इस कार्यक्रम के समापन सत्र में एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी,  परम विशिष्ट सेवा मेडल (पीवीएसएम), अति विशिष्ट सेवा मेडल (एवीएसएम),  विशिष्ट मेडल (वीएम), एडीसी वायु सेना प्रमुख ने प्रतिभागियों को प्रेरक संबोधन दिया। उन्होंने आज की दुनिया में साइबर सुरक्षा के महत्व पर बल दिया और कहा कि भविष्य के युद्ध मुख्य रूप से साइबर क्षेत्र में ही लड़े जाएंगे। उन्होंने साइबरस्पेस के क्षेत्र में परिचालन प्रौद्योगिकी के महत्व पर भी जोर दिया।

रक्षा अनुसंधान एवं विकास निदेशालय सचिव और रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के अध्यक्ष डॉ. समीर वी कामत ने समापन सत्र में बोलते हुए ऐसे आयोजनों का विशेष उल्लेख किया जो राष्ट्र की साइबर सुरक्षा स्थिति को और आगे बढ़ाएंगे।

इस आयोजन के महत्व को और बढ़ाते हुए, राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा समन्वयक लेफ्टिनेंट जनरल एम यू नायर ने भारत के साइबर डोमेन का रणनीतिक अवलोकन प्रदान किया। उनकी अंतर्दृष्टि  ने देश की डिजिटल संपत्तियों की सुरक्षा में सामूहिक सतर्कता की महत्वपूर्ण भूमिका पर बल देते हुए साइबर खतरों के उभरते परिदृश्य पर भी प्रकाश डाला।

राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय (आरआरयू) के निदेशक कर्नल निधीश भटनागर ने कार्यक्रम के दौरान साइबर सुरक्षा के प्रति दृढ़ समर्पण के लिए भारत सरकार की प्रशंसा की। उन्होंने विशेष रूप से व्यापक डिजिटलीकरण और खतरों के बढ़ते जोखिम के ऐसे काल में भारत की डिजिटल सुरक्षा में ऐसे प्रयासों के अत्यावश्यक महत्व को रेखांकित किया।

भारत एनसीएक्स 2023 साइबर सुरक्षा उत्कृष्टता के प्रति भारत की दृढ़ प्रतिबद्धता में एक ऐसे  निर्णायक क्षण का प्रतिनिधित्व करता है, जो सरकारी, सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों के हितधारकों के बीच सहयोग व ज्ञान-साझा करने के सर्वोपरि महत्व को भी रेखांकित करता है।

भारत एनसीएक्स 2023 ने प्रतिभागियों के लिए छह दिनों तक गहन प्रशिक्षण और पांच दिनों तक रेड ऑन ब्लू लाइव फायर साइबर अभ्यास का आयोजन किया, जिसमें प्रतिभागियों ने एक निर्धारित प्रतिद्वंद्वी के विरुद्ध अपने साइबर कौशल से उसका सामना किया। इस अभ्यास में वास्तविक वैश्विक साइबर चुनौतियों से निपटने के लिए साइबर खतरे के परिदृश्य, घटना पर प्रतिक्रिया, संकट प्रबंधन पर नेतृत्व स्तर की चर्चा के लिए एक स्ट्रेटेजिक ट्रैक भी था।

मुख्य अभ्यास के अलावा, भारत एनसीएक्स 2023 ने प्रतिष्ठित भारत एनसीएक्स मुख्य सुरक्षा अधिकारी सम्मेलन (भारत एनसीएक्स सीआईएसओ कॉन्क्लेव) का भी आयोजन किया, जिसमें सरकार, सार्वजनिक संगठनों और निजी क्षेत्र के 200 से अधिक मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारी (सीआईएसओ) सम्मिलित हुए। उद्योग जगत के प्रमुखों की इस विशेष सभा ने उभरते साइबर खतरे के परिदृश्य पर गहन चर्चा और विचार-विमर्श के लिए एक अनूठा मंच प्रदान किया।

भारत एनसीएक्स 2023 में भारतीय साइबर सुरक्षा स्टार्ट-अप्स और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम आकार के उद्यमों के नवाचार और लचीलेपन पर प्रकाश डालने के लिए एक विशेष प्रदर्शनी भी लगाई गई। इस प्रदर्शनी में इन महत्वपूर्ण संस्थाओं द्वारा विकसित उन अत्याधुनिक समाधानों और प्रौद्योगिकियों को प्रस्तुत किया गया, जो भारत के साइबर सुरक्षा इकोसिस्टम को सुदृढ़  बनाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करते हैं।

भारत एनसीएक्स 2023 ने हमारी साइबर सुरक्षा को सुदृढ़ बनाने का प्रयास करते हुए एक राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा रणनीति की आवश्यकता पर भी प्रकाश डाला, जिसके परिणामस्वरूप कानूनी ढांचे द्वारा समर्थित शासन संरचनाएं, खतरे की जानकारी साझा करने के लिए कुशल प्रक्रियाएं और सार्वजनिक निजी भागीदारी को आगे बढ़ाया जा सके।

बढ़ते डिजिटलीकरण के इस युग में भारत एनसीएक्स 2023 हमारे देश की अमूल्य डिजिटल संपत्तियों की सुरक्षा में सामूहिक सतर्कता और तैयारियों के सर्वोपरि महत्व के एक आवश्यक  अनुस्मारक (कम्पैलिंग रिमाइन्डर) के रूप में कार्य करता है।

Related posts

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More