19 C
Lucknow

सेवादल ने राजीव गांधी जी की प्रतिमा को गार्ड ऑफ ऑनर देकर उनको याद कर श्रद्धांजलि अर्पित की किया

उत्तर प्रदेश

लखनऊ: संचार क्रांति के जनक और ग्रामीण भारत के सर्वांगीण विकास के जनक भारत के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न राजीव गांधी को जयंती पर याद किया गया, इस अवसर पर कांग्रेस जनों और सामाजिक संगठनो ने युगदृष्टा राजीव गांधी को श्रद्धासुमन अर्पित कर, उनके कार्यों को याद किया। नवनियुक्त प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय राय जी ने सैकड़ों कांग्रेसियों के साथ वाराणसी में राजीव गांधी की प्रतिमा पर पहुंच कर पुष्प अर्पित कर, उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी। उधर लखनऊ प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय ‘नेहरु भवन’ पर संगोष्ठी आयोजित कर  राजीव जी के विचारों और कार्यों पर प्रकाश डाला गया। इस अवसर पर छात्र संगठन के नेताओं ने फल वितरण किया और वृक्षारोपण कर राजीव गांधी जी को श्रद्धा सुमन अर्पित किये।
कांग्रेस प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव ने जानकारी देते हुए बताया कि कालिदास चौराहे स्थित राजीव गांधी जी की प्रतिमा पर नेता विधानमंडल दल श्रीमती आराधना मिश्रा मोना एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बृजलाल खाबरी ने माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित किया। सभी प्रमुख कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश मुख्यालय ‘राजीव भवन’ चौराहे पर स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा पर भी पुष्पांजलि अर्पित किया। आज राजीव गांधी जी की जयंती पर युवा कांग्रेस मुख्यालय प्रांगण में वृक्षारोपण भी किया गया। कांग्रेस मुख्यालय ‘नेहरु भवन’ पर आयोजित संगोष्ठी के माध्यम से पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अमर शहीद राजीव गांधी जी के अतुलनीय योगदान को याद किया गया।

वाराणसी में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय राय ने राजीव गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर राजीव जी को याद करते हुए कहा की अमर शहीद राजीव गांधी युगदृष्टा थे। उन्होंने अपने अल्प समय के कार्यकाल में देश के लिए ऐतिहासिक कार्य किए, ग्राम पंचायत को सशक्त किया, संचार क्रांति से देश को 21 वीं सदीं में भारत को अग्रणी पंक्ति में खड़ा किया। उन्होंने 18 वर्ष की उम्र के युवाओं को मताधिकार दिया और नई शिक्षा नीति से देश के आम जनमानस के बच्चों को नवोदय विद्यालय जैसी शिक्षा प्रणाली की व्यवस्था दी। उनके कार्य और विचार हम सभी के लिए प्रेरणा हैं। उनके कार्यकाल में निरंतर शांति समझौते कर सद्भाव स्थापित करना, भारत देश में लोकतंत्र की मजबूती का माध्यम बना। असम, पंजाब, मिज़ोरम और त्रिपुरा में शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

इधर लखनऊ मुख्यालय पर आयोजित संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कांग्रेस विधान मंडल दल की नेता आराधना मिश्रा ‘मोना’-विधायक ने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में राजीव जी के कार्यों ने उन्हें दुनिया के शीर्ष नेताओं के रुप में स्थापित किया है। 21वीं सदी के भारत के निर्माण में राजीव जी की अद्वितीय भूमिका वैश्विक स्तर पर अविस्मरणीय है। श्रीमती आराधना मिश्रा ने कहा कि डिजिटल इंडिया के शिल्पकार राजीव जी ने दूरसंचार और आईटी क्रांति व कंप्यूटरीकरण कार्यक्रम चला कर भारत को दुनिया के अग्रिम पंक्ति के देशों में लाकर खड़ा कर दिया। राजीव जी ने भारत को आई.टी. युग में ले जाने के लिए जो निर्णायक कदम उठाया उससे आज लाखों युवा देश में ही नहीं बल्कि देश के बाहर दुनियां भर में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं।

प्रदेश महासचिव दिनेश सिंह ने कहा कि राजीव गांधी दूरदर्शी नेता थे। बहुत कम समय में ही राजीव जी के कुशल नेतृत्व में देश में ग्रामीण पेयजल, टीकाकरण, साक्षरता, तिलहन, दूरसंचार, डेयरी और बंजर भूमि विकास के लिए टेक्नोलॉजी मिशन शुरू किए गए। इसके साथ ही देशभर में वैक्सीन रिसर्च और उत्पादन क्षमताओं का व्यापक विस्तार किया गया।

श्री सिंह ने कहा कि राजीव जी के शासनकाल में ही विज्ञान और प्रगतिशील मूल्यों पर आधारित नई शिक्षा नीति पेश की गई। इस नीति का प्रत्यक्ष परिणाम देश के प्रत्येक ज़िले में खोले गए नवोदय विद्यालय हैं, जिनकी संख्या 661 से अधिक है। जहां प्रतिवर्ष लाखों आम युवा उच्चगुणवत्तायुक्त शिक्षा निशुल्क ग्रहण कर रहें हैं।

पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला ने कहा कि राजीव गांधी जी ने समाज के सभी तबकों के कल्याण को ध्यान में रख कर अपने शासनकाल में 11 नीतियां बनायी। इसमें नयी शिक्षा नीति, आवास नीति, नई स्वास्थ्य नीति, नयी सिंचाई नीति प्रमुख है। उन्होंने कई संस्थाओं की स्थापना की। पीने का पानी, टीकाकरण, साक्षरता, बाढ़ नियंत्रण, खाने के तेल, दुग्ध उत्पादन और टेलीकॉम पर टेक्नालाजी मिशन बनाया।

संगोष्ठी में मीडिया संयोजक अंशू अवस्थी ने कहा युवाओं की मतदान उम्र 21 वर्ष से घटाकर 18 कर राजीव जी ने ऐतिहासिक कार्य किया और गांवों की ग्राम सभा को पंचायती राज अधिनयम लाकर शक्ति और अधिकार प्रदान किए। ग्राम पंचायतों में महिलाओं की 33 प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित करना, ऐतिहासिक व क्रांतिकारी कदम रहा है। आज 15 लाख से अधिक महिलाएं पंचायतों और नगर पालिकाओं में निर्वाचित प्रतिनिधि हैं।

श्री श्रीवास्तव ने बताया कि कार्यक्रम में नेता विधान मंडल दल आराधना मिश्रा मोना, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बृजलाल खाबरी, पूर्व मंत्री नकुल दुबे, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी व नकुल दुबे, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला, पूर्व विधायक इन्दल रावत, प्रदेश उपाध्यक्ष विश्व विजय सिंह, महासचिव दिनेश सिंह संगठन सचिव अनिल यादव, कोषाध्यक्ष शिव पाण्डेय, प्रदेश मीडिया संयोजक ललन कुमार, मीडिया संयोजक अंशू अवस्थी, प्रदेश महासचिव सैफ अली नकवी, प्रवक्ता पंकज तिवारी, कृष्णकांत पांडे, पार्षद परवेज अंसारी, विजय बहादुर, जिला अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, सैनिक प्रकोष्ठ सुभाष मिश्रा, नीरज तिवारी, रजनीश यादव, सेवादल संगठक राजेश सिंह काली, शाहनवाज मंगल, रजा मोहम्मद, पूर्व महासचिव संगम लाल शिल्पकार, विनोद यादव, सिद्धी श्री, तनुज पुनिया, शाइमा खान, सुशीला जी, डा सुधा मिश्रा, डा रिचा कौशिक, प्रदीप तिवारी, संजीव सिंह, महादेव रावत, कैप्टन बी.डी. मिश्रा,रामू गुप्ता , युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष अंकित तिवारी, जितेंद्र पासी, पूर्व पार्षद के0के0 शुक्ला, नितांत सिंह, रौशन सिंह चंदन सहित सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस जन प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Related posts

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More