20 C
Lucknow

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 31 मार्च, 2015 को सोनभद्र में अनपरा-डी तापीय परियोजना की प्रथम इकाई का बटन दबाकर लोकार्पण करते हुए।

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज जनपद सोनभद्र के अनपरा में तापीय विद्युत परियोजना अनपरा ‘डी’ का लोकार्पण किया। उत्तर प्रदेष राज्य विद्युत उत्पादन निगम लि0 के तहत निर्मित 2ग्500 मेगावाट क्षमता की इस परियोजना की 500 मेगावाट की प्रथम इकाई का लोकार्पण करते हुए मुख्यमंत्री ने इसे प्रदेष के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि बताया। मुख्यमंत्री द्वारा षिलापट्ट का अनावरण एवं कन्ट्रोल यूनिट का बटन दबाकर इकाई को शुरू किया गया। लोकार्पण के पश्चात मुख्यमंत्री ने परियोजना के फायर पिट, ब्वाॅयलर पिट आदि का निरीक्षण भी किया।

ज्ञातव्य है कि अनपरा ‘डी’ परियोजना के तहत 500-500 मेगावाट विद्युत उत्पादन क्षमता की दो इकाइयों का निर्माण किया जाना है। 500 मेगावाट क्षमता की इसकी दूसरी इकाई से 30 जून, 2015 से विद्युत उत्पादन प्रारम्भ हो जाएगा। कुल
7 हजार 27 करोड़ रुपए की लागत की इस परियोजना का निर्माण अनपरा तापीय परियोजना की ‘अ’ एवं ‘ब’ इकाइयों द्वारा भरे गए परित्यक्त ऐश पाॅण्ड स्थल पर किया गया है। इस परियोजना के लिए किसी अतिरिक्त भूमि का अधिग्रहण नहीं किया गया है। इस प्रकार भरे हुए तथा अनुपयोगी राख भण्डार क्षेत्र पर विद्युत परियोजना का निर्माण बी0एच0ई0एल0 द्वारा विशिष्ट तकनीक से किया गया है। परियोजना के लिए प्रतिदिन 16 हजार टन कोयले की आवश्यकता होगी, जिसकी आपूर्ति एन0सी0एल0 सिंगरौली की खदानों से की जाएगी।
तापीय विद्युत परियोजना अनपरा ‘डी’ के लोकार्पण के पश्चात मुख्यमंत्री ने अनपरा के केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के मैदान पर आयोजित एक जनसभा में 392 करोड़ रुपए की लागत से नवीनीकृत हरदुआगंज तापीय विद्युत परियोजना की 120 मेगावाट की सातवीं इकाई का भी लोकार्पण किया। आज सम्पन्न दोनों विद्युत परियोजनाओं के लोकार्पण से राज्य के विद्युत उत्पादन में 620 मेगावाट की बढ़ोत्तरी हुई है। जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के सुदृढ़ विकास हेतु लगातार प्रयासरत है। इसके सुपरिणाम अब सामने आने लगे हैं। वर्ष 1994 के बाद इतनी बड़ी क्षमता के विद्युत ताप गृह का लोकार्पण हुआ है।
श्री यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार के प्रयासों से राज्य में बिजली का उत्पादन लगातार बढ़ रहा है। उन्होंने खुषी जाहिर की कि इस परियोजना के विद्युत उत्पादन से प्रदेश में ऊर्जा व्यवस्था में सुधार आएगा। अक्टूबर, 2016 तक प्रदेष के ग्रामीण क्षेत्रों में कम से कम 16 घंटे और नगरीय क्षेत्र में 22 घंटे तक बिजली दी जा सकेगी। उन्होंने आषा व्यक्त की कि जल्द ही 500 मेगावाट क्षमता की दूसरी इकाई से भी विद्युत उत्पादन प्रारम्भ होगा। विद्युत क्षेत्र मंें बहुत सारे काम ऐसे किये गये हैं, जो प्रत्यक्ष दिखाई नहीं देते किन्तु इससे विद्युत पारेषण, वितरण एवं उत्पादन का क्षेत्र काफी सुदृढ़ हुआ है। राज्य सरकार अभी लोगों की जरूरत पूरा करने के लिए हजारों मेगावाट बिजली खरीद रही है, लेकिन भविष्य में बिजली की बढ़ी हुई मांग को पूरा करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने इस अवसर पर बी0एच0ई0एल0 को ऐसी तकनीक को विकसित करने का सुझाव दिया, जिससे विद्युत परियोजनाओं की निर्माण लागत कम हो सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेष सरकार ने बिजली के अलावा सड़क और पानी पर भी काफी काम किया है। वाराणसी-शक्तिनगर मार्ग के चैड़ीकरण का कार्य चल रहा है, जिसका पूर्व में उनके द्वारा ही षिलान्यास किया गया था। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि सड़क का काम जल्दी होगा और यात्रा में लगने वाले समय में कमी आएगी। सिंचाई की सुविधा के लिए वर्तमान सरकार कनहर सिंचाई परियोजना के निर्माण का कार्य शुरू कर चुकी है। 33 वर्षाें से लम्बित इस परियोजना को सरकार जल्द से जल्द पूरा करना चाहती है। चिकित्सा क्षेत्र में ‘108’ व ‘102’ एम्बुलेंस सेवा, निःषुल्क दवा और विधायक निधि से क्षेत्र के गरीब लोगों के इलाज के लिए धन देने की व्यवस्था की गयी है। समाजवादी पेंषन योजना की शुरूआत की गयी है, जिसे आवष्यकतानुसार बढ़ाया भी जा रहा है।
श्री यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार लगातार जनता के हित में काम कर रही है। हमारी उपलब्धियां भी बहुत हैं। जनता से किये गये वादे पूरे किये गये हैं। प्रदेष में युवा बेरोजेगारी को दूर करने में सरकार के प्रयास का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि सरकारी विभागों में भर्ती प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गयी है। निजी क्षेत्र में भी रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए प्रदेष में बड़े पैमाने पर निवेष हेतु कारगर कदम उठाये गये हैं। पुलिस भर्ती में घोटाले को बेबुनियाद बताते हुए उन्होंने कहा कि कतिपय तत्व इस सम्बन्ध में दुष्प्रचार कर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। सच तो यह है कि अत्याधुनिक तकनीक और अन्तर्राष्ट्रीय मानकों को अपनाकर भर्ती परीक्षा कराई गई। सभी भर्तियां निष्पक्ष रूप से की जा रही हैं। वर्तमान सरकार द्वारा जितने पारदर्शी तरीके से भर्ती की गई, उतनी पहले कभी नहीं हुई। उन्होंने पुलिस की नौकरी के लिए सेना के समान अच्छा प्रशिक्षण देने पर बल देते हुए कहा कि सरकार लगभग एक लाख पदों पर भर्ती कर नौजवानों को नौकरी के अवसर देगी।
सिंचाई एवं लोक निर्माण मंत्री श्री षिवपाल सिंह यादव ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि सोनभद्र जिले को सूखे के प्रभाव से बचाने के लिए कनहर सिंचाई परियोजना पर काम चल रहा है, जिसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। जनसभा को प्रदेष के ऊर्जा राज्य मंत्री श्री यासर शाह, मुख्य सचिव
श्री आलोक रंजन, सी0एम0डी0 भेल श्री वी0पी0 राव ने भी सम्बोधित किया।
इस अवसर पर प्रदेष के कैबिनेट मंत्री श्री दुर्गा प्रसाद यादव, राज्य मंत्री
श्री सुरेन्द्र सिंह पटेल एवं श्री कैलाष चैरसिया, विधायक श्री अविनाष कुषवाहा,
श्री रमेष चन्द्र दूबे, श्रीमती रूबी प्रसाद, श्री सुनील कुमार सिंह यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण व अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

Related posts

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More