24 C
Lucknow

विन्जो ने ब्राजील में लॉन्च के साथ 100 से अधिक गेम्स का निर्यात शुरू किया

उत्तराखंड

 देहरादून: विन्जो, 150 मिलियन से अधिक यूजर्स के साथ भारत के सबसे बड़े स्थानीय सोशल गेमिंग प्लेटफॉर्म, ने ब्राजील में अपने ऐप के लॉन्च की घोषणा की है। इस कदम से विन्जो के प्लेटफॉर्म पर मौजूद 100 से अधिक गेम डेवलपर्स को कैरम, चेस, कार रेस समेत अन्य गेम्स को निर्यात करने में मदद मिलेगी। साथ ही उन्हें 90 मिलियन से अधिक यूजर्स के साथ चौथे सबसे बड़े मोबाइल गेमिंग बाजार ब्राजील में मुफ्त पहुंच का लाभ मिलेगा। विस्तार की यह पहल ‘मेड इन भारत’ यानी भारत में निर्मित विश्व स्तरीय गेमिंग तकनीक के निर्माण और उन्हें सक्षम बनाने के साथ वैश्विक बाजारों में निर्यात करने की विन्जो की प्रतिबद्धता को दोहराती है।

विन्जो की इस पहल से इसके प्लेटफॉर्म पर मौजूद 100 से अधिक भारतीय गेम डेवलपर्स को तकनीकों और आईपी के निर्यात की सुविधा मिलेगी और ऐसा करने वाला विन्जो भारत का पहला प्रमुख गेमिंग प्लेटफॉर्म होगा। प्लेटफॉर्म पर मौजूद पार्टनर गेम डेवलपर्स को तकनीक, मार्केटिंग और वितरण पर कोई खर्च किए बिना नए बाजारों और यूजर्स तक पहुंच मिलेगी। विन्जो की योजना ब्राजील के गेमिंग बाजार का विस्तार और निर्माण करने के लिए 25 मिलियन डॉलर का निवेश करने की है, जो भारत से होने वाले कंप्यूटिंग, तकनीक और उपभोक्ता तकनीक के निर्यात के विकास के लिए नए दरवाजे खोलेगा।

इस उपलब्धि के बारे में बताते हुए विन्जो के सह-संस्थापक पवन नंदा ने कहा, “हमें यह स्वीकार करना होगा कि ऑनलाइन गेमिंग उद्योग का दायरा मनोरंजन से कहीं आगे तक फैला हुआ है। यह उभरती तकनीक के विकास को आकार देने में अहम भूमिका निभाता है। विन्जो मेड इन भारत उपभोक्ता टेक उत्पादों को बनाने के लिए प्रतिबद्ध है, जो दुनिया भर के युवा यूजर्स की इंटरैक्टिव मनोरंजन जरूरतों को पूरा करता है। हमने एक तकनीकी स्टैक बनाया है जो आज भारत के 150 मिलियन से अधिक युवा यूजर्स की जरूरतों को पूरा करता है और इसे दुनिया भर में विस्तार दिया जा सकता है।”

 ब्राजील लैटिन अमेरिका की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और यहां मोबाइल गेमिंग की लोकप्रियता में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। 2022 में यहां लगभग 4.6 अरब मोबाइल गेम डाउनलोड हुए। भारत और ब्राजील दोनों ही ब्रिक्स के सदस्य हैं और दोनों का साझा उद्देश्य सदस्य देशों के बीच सहयोग और व्यापार बढ़ाने का है। ब्राजील में विन्जो के विस्तार का उद्देश्य इस सहयोग को तकनीक के क्षेत्र तक विस्तारित करने का है। इस विस्तार से भुगतान, गिग इकॉनमी जैसे क्षेत्रों समेत ब्राजील की क्रिएटर इकॉनमी का विकास होगा और रोजगार के व्यापक अवसर पैदा होंगे।

विन्जो का यह विस्तार भारत के गेमिंग इकोसिस्टम में ऐसे समय में हुआ है, जब कंपनियां जीएसटी में 400% की बढ़ोतरी से उत्पन्न चुनौतियों से निपटने के तरीके तलाश रही हैं। कर में इस बढ़ोतरी ने शुरुआती चरण वाले अधिकांश कंटेंट/आईपी क्रिएटर्स के अस्तित्व को खतरे में डाल दिया है, जिनमें भारत को वैश्विक गेमिंग के क्षेत्र में नेतृत्व की स्थिति में लाने के साथ गूगल और फेसबुक जैसे पश्चिम के दिग्गजों की जगह लेने की क्षमता है।

इस महीने, विन्जो लैटिन अमेरिका के सबसे बड़े गेमिंग शो, ब्राजील गेम शो में पहली बार भारत पवेलियन का भी लॉन्च और प्रतिनिधित्व करेगा। यह भारत के गेम डेवलपर्स को वैश्विक गेमिंग इकोसिस्टम में प्रतिनिधित्व करने और वैश्विक दर्शकों के सामने अपने गेम्स का प्रदर्शन करने का मौका देगा। कंपनी गेम डेवलपर्स के साथ अपने सहयोग को और आगे ले जाने की योजना बना रही है, ताकि उनके गेम्स को दुनिया के दूर-दराज के कोनों तक निर्यात किया जा सके।

विन्जो के विषय में

टियर 2 से टियर 5 में मौजूद 150 मिलियन से अधिक यूजर्स के साथ विन्जो भारत का सबसे बड़ा सोशल गेमिंग और इंटरैक्टिव मनोरंजन प्लेटफॉर्म है। 2018 की शुरुआत में लॉन्च, कंपनी अपने एंड्रॉइड ऐप पर गेम होस्ट करने के लिए थर्ड पार्टी डेवलपर्स के साथ साझेदारी करती है, जो यूजर्स को उनकी खेल जरूरतों के मुताबिक मल्टीप्लेयर गेमप्ले अनुभव प्रदान करती है। यह मंच 12 देशी भाषाओं में उपलब्ध है। विन्जो 100 से अधिक गेम्स के पोर्टफोलियो के साथ हर महीने 4 अरब से अधिक छोटे लेन-देन करता है, जिसमें भारत में होने वाले प्रत्येक 250 यूपीआई लेनदेन में से एक विन्जो के प्लेटफॉर्म पर होता है। कंपनी का लक्ष्य भारत में उत्साही गेमर्स और गेमिंग इन्फ्लुएंसर्स समुदाय का निर्माण करना है। विन्जो एक ऐसे भविष्य की कल्पना करता है, जहां इसका प्लेटफॉर्म विशिष्ट सूक्ष्म लेनदेन मॉडल के माध्यम से राजस्व अर्जित करते हुए वैश्विक दर्शकों को उनके सांस्कृतिक रूप से प्रासंगिक और आनंददायक अनुभव को मुहैया करा सके।

विन्जो, सीरीज सी फंडेड वेंचर है, जिसने ग्रिफिन गेमिंग पार्टनर्स, कोर्टसाइड वेंचर्स, मेकर्स फंड जैसे प्रमुख गेमिंग और मनोरंजन निवेशकों से 100 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। इनमें से सभी ने विन्जो के माध्यम से भारतीय स्टार्ट-अप इकोसिस्टम में अपना पहला निवेश किया है।

Related posts

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More