20 C
Lucknow

पंचायत प्रतिनिधियों की एक दिवसीय राज्य स्तरीय परामर्शीय कार्यशाला क्षमता विकास के कार्यक्रम चलाये जायेंगे -प्रमुख सचिव पंचायती राज

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: दिनांक  09 फरवरी, 2015
                         उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव पंचायती राज श्री चंचल कुमार तिवारी ने ‘राजीव गांधी पंचायत सशक्तीकरण योजना को बढ़ावा देने के उद्देश्य से पंचायतों को मजबूत किये जाने की आवश्यकता पर बल दिया है। उन्होंने कहा कि नयी योजना की जानकारी ग्राम प्रधानों व पंचायत प्रतिनिधियों को अवश्य दी जाए।

श्री तिवारी ने आज यहां बक्शी का तालाब स्थित राज्य ग्राम विकास संस्थान में राजीव गांधी पंचायती सशक्तिकरण अभियान के तहत रिसोर्सेस सपोर्ट टू स्टेट्स विषय पर पंचायत प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह योजना पंचायतों एवं ग्राम सभाओं की क्षमता एवं प्रभावशीलता को बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू की गयी है।
श्री तिवारी ने कहा कि एक साल व पांच साल की जो भी योजनायें बनायी जायेंगी उनके सम्बन्ध में पंचायत प्रतिनिधियों/प्रधानों से गांवों के विकास पर भी सुझाव मांगे गये हैं। अब योजनायें जो बनायी जायेंगी, वह ऊपर स्तर से न बन कर नीचे स्तर से बनेगी। उन्होंने बताया कि राजीव गांधी पंचायती सशक्तिकरण अभियान रिसोर्स सपोर्ट टू स्टेट्स के तहत पंचायत भवन का निर्माण, सी0सी0 रोड, शौचालय का निर्माण आदि इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करते हुए पंचायतों को भी मजबूत बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि पंचायत सेवक व कम्प्यूटर आपरेटर की मांग के अनुसार नियुक्ति कर गावों में पंचायतों को मजबूत किया जायेगा। क्षमता विकास के विभिन्न कार्यक्रम चलाये जायेंगे।
परियोजना का कार्यकाल 12वीं पंचवर्षीय योजना (वर्ष 2012-13 से वर्ष 2016-17) के अनुरूप है। इस कार्यशाला का प्रायोजन राजीव गांधी पंचायत सशक्तीकरण अभियान विषय पर विस्तृत जानकारी देने एवं दीर्घकालिक एवं वार्षिक कार्य योजना पर चर्चा करने एवं ग्राम पंचायतों के कार्यों एवं गतिविधियांे का चिन्हीकरण किये जाने के उदद्ेश्य से किया गया। साथ ही कार्यशाला में प्रदेश के विभिन्न जनपदों से पंचायत के तीनो स्तर के पदाधिकारियों की प्रतिनिधित्व सहभागिता करायी गई ताकि इन उदद्श्यों की पूर्ति हेतु अगले वित्तीय वर्ष के लिए नीतियों का निर्धारण अनुभव के आधार पर किया जा सके। कार्यक्रम मेें विभिन्न जनपदों के जिला पंचायत अध्यक्ष, क्षेत्र पंचायत प्रमुख, क्षेत्र पंचायत सदस्य, प्रधान ग्राम पंचायत एवं सदस्य के साथ जिला पंचायत राज अधिकारी, ए.डी.ओ. (पंचायती राज) विशेषज्ञ, प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट, आर0जी0पी0एस0ए0 द्वारा प्रतिभाग किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता सुश्री ज्योति रावत जिला पंचायत, उन्नाव द्वारा की गई एवं प्रतिभागियों को श्री एन.एस. रवि, महानिदेशक एस.आई.आर.डी. एवं निदेशक पंचायती राज श्री उदयवीर यादव ने सम्बोधित किया। कार्यशाला का समापन करते हुए संस्थान के महानिदेशक श्री एन.एस. रवि ने योजना की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए योजना के क्रियान्वयन में संस्थान एवं पूरे प्रदेश में स्थापित अधीनस्थ संस्थानों के माध्यम से निचले स्तर तक हर संभव सहयोग करने का आश्वासन दिया।

Related posts

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More