यूपी में 300 बंदी भी देंगे बोर्ड परीक्षा

उत्तर प्रदेश

इलाहाबाद: माध्यमिक शिक्षा परिषद-उत्तर प्रदेश की 10वीं और 12वीं की परीक्षा गुरुवार से शुरू होगी। परंपरा के मुताबिक, पहले दिन हाईस्कूल का हिन्दी का पेपर होगा, जबकि इंटर में हिन्दी के साथ सैन्य विज्ञान का पेपर होगा। इसके लिए पूरे 10,500 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। इस दौरान बोर्ड के सामने नकलविहीन परीक्षा कराने की भी चुनौती होगी। परीक्षा में कुल 64,23,198 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं। जिनमें हाईस्कूल के 34,98,430 और इंटर के लिए 29,24,768 पंजीकृत हैं। पंजीकृत छात्रों की संख्या पिछले साल के मुकाबले 6,97,067 कम हैं।

हाईस्कूल परीक्षा 19 फरवरी से 11 मार्च तक चलेगी जबकि इंटर की परीक्षा 19 फरवरी से 23 मार्च के बीच होगी। परीक्षा में 15 मिनट पेपर पढ़ने के लिए मिलेंगे। वहीं, दृष्टिबाधित और विकलांग परीक्षार्थियों को एक घंटा अधिक समय मिलेगा।

यूपी बोर्ड की परीक्षा में 300 बंदी भी शामिल होंगे। इनमें हाईस्कूल के 131 और इंटरमीडिएट के 169 बंदी शामिल हैं। गाजियाबाद से 63, बरेली से 62, लखनऊ से 8, गोरखपुर से 24, वाराणसी से 23, फिरोजाबाद से 39, फर्रूखाबाद से 18 और बांदा से 11 बंदी परीक्षा में शामिल होंगे।

बोर्ड सचिव अमरनाथ वर्मा का कहना है कि नकलविहीन परीक्षा के लिए तैयारी पूरी कर ली गई है। परीक्षा के लिए 1.05 लाख शिक्षकों और कर्मचारियों को तैनात किया गया है। सभी केंद्रों पर परीक्षा सामग्री पहुंचा दी गई है।

Related posts

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More