586 करोड़ रु0 की 44 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 25 करोड़ रु0 से अधिक की 18 परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया: मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज जनपद बांदा में निर्माणाधीन राजकीय मेडिकल काॅलेज के ओ0पी0डी0 भवन का उद्घाटन कर ओ0पी0डी0 सुविधाओं का शुभारम्भ किया। उन्होंने 586 करोड़ रुपए की लागत की 44 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 25 करोड़ रुपए से अधिक लागत की 18 परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।

श्री यादव ने इस मौके पर राज्य सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को लाभान्वित भी किया। इसके तहत समाजवादी पेंशन योजना के 900 लाभार्थियों को परिचय पत्र वितरित किए गए। मण्डी समिति द्वारा संचालित जनता व्यक्तिगत दुर्घटना सहायता योजना के 12 लाभर्थियों को चेक प्रदान किए गए। एकीकृत बागवानी मिशन योजना के तहत 6 किसानों को ट्रैक्टर तथा 12 किसानों को सोलर पम्प हेतु स्वीकृति पत्र भी मुख्यमंत्री द्वारा प्रदान किए गए। उन्होंने श्रम विभाग द्वारा संचालित मातृत्व हित लाभ योजना की 84 लाभार्थियों को 4 लाख 83 हजार रुपए तथा शिशु हित लाभ योजना की 84 लाभार्थियों को 9 लाख 38 हजार रुपए की आर्थिक मदद प्रदान की।
कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। ओ0पी0डी0 सुविधाओं के लिए क्षेत्र की जनता को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश की जनता विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कृतसंकल्प है। समाजवादी सरकार समाज के गरीब, वंचित और पिछड़े वर्गों को ध्यान में रखकर फैसले कर रही है। स्वास्थ्य एवं शिक्षा जैसी मूलभूत सुविधाओं को प्रदेश सरकार राज्य के दूर-दराज इलाकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि राजकीय मेडिकल काॅलेज के निर्माण में धन की कमी नहीं होने दी जाएगी। मेडिकल काॅलेज का निर्माण प्रत्येक दशा में एक वर्ष में पूरा कर लिया जाएगा।
श्री यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के गरीबों को ध्यान में रखते हुए समाजवादी पेंशन योजना संचालित कर रही है। इस योजना के तहत 40 लाख गरीब परिवार लाभान्वित किए जा रहे हैं। अगले वित्तीय वर्ष से इस योजना में 5 लाख परिवार और शामिल किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाए बगैर राज्य का समुचित विकास सम्भव नहीं है। राज्य सरकार किसानों के हित में भी लगातार फैसले ले रही है। इसके लिए कृषक दुर्घटना बीमा योजना की धनराशि को बढ़ाकर 5 लाख रुपए कर दिया गया है। किसानों की स्थिति बेहतर करने और प्रदेश में दूध का उत्पादन बढ़ाने के लिए कामधेनु डेरी योजना चलाई जा रही है। बुन्देलखण्ड क्षेत्र में दुग्ध उत्पादन की सम्भावनाओं के मद्देनजर उन्होंने आशा जताई कि बुन्देलखण्ड के किसानों द्वारा इस योजना का व्यापक लाभ उठाया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार बुनकरों को लाभान्वित करने के लिए योजना संचालित कर रही है। पुलिस और शिक्षा विभाग मंे बड़े पैमाने पर भर्तियां की गयी हैं। विभिन्न विभागों में रिक्त पदों को भरने के लिए निर्देश दे दिए गए हैं।
इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चैधरी, सांसद श्री विशम्भर प्रसाद निषाद, विधायक श्री विशम्भर सिंह यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

9 comments

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More