16 C
Lucknow

मुख्यमंत्री ने सैफई में 639.60 करोड़ रु0 लागत की योजनाओं का शिलान्यास एवं 15.12 करोड़ रु0 लागत का लोकार्पण किया

उत्तर प्रदेश
लखनऊ:उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज सैफई इटावा में 639.60 करोड़ रुपए लागत की योजनाओं का शिलान्यास और 15.12 करोड़ रुपए की योजनाओं का लोकार्पण किया। इस अवसर पर सैफई महोत्सव पण्डाल में आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इन योजनाओं के लागू हो जाने से आम आदमी को काफी सुविधा मिलेगी। प्रदेश सरकार समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिए तेजी से कल्याणकारी एवं विकासपरक योजनाएं चला रही है, जिसके बेहतर परिणाम देखने को मिल रहे हैं। उन्होंने ग्रामीण आर्युविज्ञान संस्थान के माध्यम से आम लोगों को दी जा रही सुविधाओं की चर्चा करते हुए कहा कि यहां पर आस-पास के क्षेत्रों तथा अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों को सस्ता और बेहतर इलाज मिल रहा है। ऐसी व्यवस्था आस-पास में उपलब्ध नहीं है।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर नेता जी श्री मुलायम सिंह यादव की दूर दृष्टि और गरीबों की हर सम्भव मदद की सोच की चर्चा करते हुए कहा कि आज सैफई में बड़ी संख्या में एम0बी0बी0एस0 और पैरामेडिकल के छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं जो आने वाले दिनों में प्रदेश को बेहतर चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध कराएंगे। उन्होंने कहा कि इसे चिकित्सा विश्वविद्यालय का दर्जा दिए जाने की कार्यवाही भी चल रही है। यहां पर सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल बन जाने से गम्भीर बीमारियों का आसानी से इलाज हो सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कन्नौज, बांदा, आज़मगढ सहित कई जनपदों में नए मेडिकल काॅलेज स्थापित करने की शुरूआत की है। समाजवादी एम्बुलेन्स सेवा ‘108’ एवं नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस ‘102’ के माध्यम से जनता को बहुत राहत मिली है। इससे शिशु एवं मातृ मृत्यु दर में काफी कमी आई है।
श्री यादव ने गम्भीर मरीजों की सहायता के लिए मुख्यमंत्री कोष से दी गई सहायता राशि की चर्चा करते हुए कहा कि सबसे अधिक आवेदन कैंसर के इलाज के लिए और दूसरे नम्बर पर हृदय रोग के इलाज के लिए मिले हैं। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही अन्र्तराष्ट्रीय सहयोग प्राप्त कर लखनऊ में कैंसर इंस्टीट्यूट की स्थापना की जाएगी। इसके लिए लगभग 100 एकड़ जमीन की व्यवस्था कर दी गई है। उन्होने सरकार द्वारा चलाए जा रहे विकास कार्यों पर विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि हर क्षेत्र में कार्य हुआ है और घोषणापत्र को पूरा किया गया है। समाजवादी पेंशन योजन से 40 लाख गरीब परिवारों को लाभ हुआ है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जेल का शिलान्यास करते हुए कहा कि यहां आधुनिक जेल का निर्माण कराया जा रहा है। सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल आदि बनने से लोगों को यहां पर सुविधा के साथ-साथ नौकरी/रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। उन्होने कहा कि लोहिया ग्रामीण बस सेवा के संचालन और प्रदेश में बड़े पैमाने पर सड़क और पुलों के निर्माण से आवागमन की सुविधा बढ़ी है। उन्हांेने कहा कि सैफई में शीघ्र ही रोबोटिक र्सजरी प्रारम्भ हो जाएगी।
श्री यादव द्वारा 58.53 करोड़ रुपए लागत की पैरामेडिकल विज्ञान महाविद्यालय सैफई में अतिरिक्त अनावासीय आवासीय नवीन भवनों के निर्माण कार्य हेतु 300 बेडेड पुरुष छात्रावास मेडिकल काॅलेज सैफई के निर्माण कार्य हेतु 19.58 करोड़ रुपए, 500 बेडेड सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल सैफई के निर्माण कार्य के लिए 333.56 करोड़ रुपए, प्रशासनिक भवन थाना जसवन्त नगर इटावा के निर्माण कार्य हेतु 25.81 करोड़ रुपए, अभिनव विद्यालय सैफई, इटावा के निर्माण कार्य के लिए 11.83 करोड़ रुपए, बस स्टैण्ड इटावा के विस्तारीकरण एवं आधुनिकीकरण हेतु 11.07 करोड़ रुपए, जिला कारागार इटावा के लिए 183.91 करोड़ रुपए कुल 639.60 करोड़ रुपए का शिलान्यास तथा डाॅक्टर जूनियर रेजिडेन्ट हाॅस्टल की लागत 4.41 करोड़ रुपए, 50 शैय्या अस्पताल बकेवर, इटावा के लिए 7.12 करोड़ रुपए, निरीक्षण गृह लोक निर्माण विभाग सैफई जनपद इटावा के अन्तर्गत 300 व्यक्तियों की क्षमता वाले वातानुकूलित सभागार एवं उसके ऊपर डाॅरमेट्री के निर्माण के लिए 3.58 करोड़ रुपए कुल 15.12 करोड़ रुपए का लोकार्पण किया गया।
समारोह में लोक निर्माण मंत्री श्री शिवपाल सिंह यादव, सांसद प्रो. राम गोपाल यादव, परिवहन मंत्री श्री दुर्गा प्रसाद यादव, कारागार मंत्री श्री बलराम यादव, सैफई मेडिकल संस्थान के निदेशक बिग्रेडियर श्री टी0 प्रभाकर, जेल महानिदेशक श्री भटनागर आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर विधायक श्री राजकुमार यादव, विधायक श्री प्रदीप यादव, विधायक श्री रघुराज सिंह शाक्य, विधायक श्रीमती सुखदेवी वर्मा, प्रमुख सचिव गृह श्री देवाशीष पाण्डा के अतिरिक्त जिला प्रशासन के अधिकारीगण एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Related posts

1 comment

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More