14 C
Lucknow

मुख्यमंत्री ने कुशीनगर में लगभग 86 करोड़ रु0 की लागत की विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास तथा 100 करोड़ रु0 की परियोजनाओं का लोकार्पण किया

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज जनपद कुशीनगर में लगभग 86 करोड़ रुपए की लागत से बनायी जाने वाली विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास तथा 100 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण किया। उन्होंने नवसृजित 02 तहसीलों कप्तानगंज व खड्डा का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री द्वारा 40 हजार पुलिस की भर्ती करने हेतु एक ही लिखित परीक्षा कराने की घोषणा की गयी। बिजली की सूचारु रूप से आपूर्ति सुनिश्चित करने की बात कही। नगर पंचायत हाटा को नगरपालिका का दर्जा देने तथा सुकरौली बाजार को नया नगर पंचायत बनाए जाने की घोषणा की गयी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के लिए अधिग्रहीत भूमि का निस्तारण शीघ्र किया गया है। उन्होंने बताया कि मैत्रेय परियोजना को चार माह में प्रारम्भ करा दिया जाएगा। प्रत्येक तहसील मुख्यालय पर विद्युत सब-स्टेशन बनाये जाने की घोषणा की गयी। कृषक दुर्घटना बीमा के लम्बित दावों के भुगतान हेतु धनराशि शीघ्र आवंटित करने का आश्वासन दिया गया। जनपद में कैंसर से प्रभावित व्यक्तियों को मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से सर्वाधिक सहायता दिये जाने की बात कही। पूर्वांचल मंे कैंसर रोगियों की बढ़ती संख्या के दृष्टिगत इस क्षेत्र के लिए अच्छी स्वास्थ्य सुविधाओं को उपलब्ध कराने की घोषणा की गयी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गन्ना मूल्य अन्य राज्यों के सापेक्ष अधिक दिया जा रहा है। किसानों को गन्ना मूल्य के बकाये धनराशि का भुगतान तत्काल कराने का निर्देश दिया गया। सभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि समस्त कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के समस्त गरीब व वंचित पात्र व्यक्तियों को प्रत्येक दशा में दिलाना सुनिश्चित करें। इन योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने हेतु समस्त अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने पुलिस बल को मुख्य रूप से निर्देशित किया कि आम जनता का उत्पीड़न न हो, इसे सुनिश्चित किया जाए।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने जनपद के विभिन्न प्रकार की परियोजनओं जैसे राजकीय पाॅलिटेक्निक, आई0टी0 आई0 भवन, तहसील भवन कप्तानगंज व खड्डा के साथ गांवों को सी0सी0 रोड, सम्पर्क मार्ग, सहित विभिन्न ग्राम पंचायतों अन्तर्गत कब्रिस्तानों के चहारदीवारी का तहसील सभा कक्ष स्थल पर शिलापट्ट के माध्यम से शिलान्यास/लोकार्पण बटन दबाकर किया।
मुख्यमंत्री ने समाजवादी सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि यह सरकार सभी गरीब, असहाय, मजलूम लोगों के विकास के लिए किये गए वादे के मुताबिक कार्य करते हुए सभी के हित और विकास के प्रति निरन्तर प्रयत्नशील है। उन्होंने बताया कि इस सरकार के पूर्व शासनकाल में जनपद को जिला का दर्जा मिला।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इण्टर पास बालक/बालिकाओं को लैपटाॅप, बेरोजगारी भत्ता, समाजवादी पेंशन, किसान दुर्घटना बीमा योजना का लाभ दिया गया है। प्रदेश के विकास को अन्य प्रदेशों से तुलना किया जाय तो यह महसूस होगा कि किस प्रदेश में कितना विकास हुआ है। उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रदेश के विकास के लिए केन्द्र सरकार द्वारा भूमि की मांग की जाती है तो उसे हर हाल में उपलब्ध कराया जाएगा।
श्री यादव ने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए पुल, पुलिया, सड़कों का जाल बिछाने का कार्य किया जा रहा है। आमजन की सुविधाओं के लिए प्रदेश में 500 अतिरिक्त एम्बुलेन्स देने की योजना प्रस्तावित है। विकास कार्याें को चरणबद्ध तरीके से चलाते हुए प्रदेश में इंजीनियरिंग, मेडिकल, आई0टी0आई0 काॅलेजों के खोलने का काम किया जा रहा है। व्यवस्था सुधार के अन्तर्गत बिजली आपूर्ति के सुधारने हेतु निरन्तर कार्य किए जा रहे हैं। यह देश का सबसे अधिक जनसंख्या वाला प्रदेश है यहां पर नौजवानों की संख्या अधिक है उनकी सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए 40,000 पुलिस की भर्ती की जाएगी। यह वर्ष किसान वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है सभी गन्ना किसानों के मूल्यों का भुगतान किया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी के हित में कार्य करते हुए सभी विधायकों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने निधि से गम्भीर बीमारियों कैंसर, हार्ट आदि से पीडि़त व्यक्तियों को 25 लाख रुपए तक मदद कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि विधायकगणों की संस्तुति पर गम्भीर बीमारियों के दवा इलाज के लिए 5 लाख रुपए तक अनुदान देने का कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि यह पूर्वांचल का क्षेत्र इन्सेलाइटिस बाहुल्य क्षेत्र है। अगर जरूरत पड़ी तो और धनराशि की सहायता मेडिकल काॅलेज गोरखपुर को दी जाएगी। इसी क्रम में उन्होंने बताया कि स्वच्छ पेयजल ग्रामीण स्तर पर सभी को मुहैया हो, इसके लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है।
इस मौके पर समाजवादी पेंशन एवं लोहिया आवास से सम्बन्धित लाभार्थियों को पासबुक वितरित की गई। इस अवसर पर मंत्रिगण, सांसद, विधायक सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

Related posts

6 comments

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More