श्रावस्ती में पर्यटक सुविधाओं को बढ़ाया जाएगा, पर्यटकों को ठहरने की स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: श्रावस्ती में पर्यटकों के रुकने की और अन्य सुविधाओं का जल्द ही तेजी से विस्तार किया जाएगा। इसके तहत श्रावस्ती और बलरामपुर में यूपी पर्यटन के पर्यटक गेस्ट हाउसों को उच्चीकृृत कर उनमें आधुनिक सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। यह जानकारी महानिदेशक पर्यटन श्री अमृृत अभिजात ने दी। उन्होंने बताया कि श्रावस्ती को प्रो पुअर पर्यटन के इनर सर्किल की परिधि में लाए जाने की प्रक्रिया भी तेज की जाएगी। बुद्धिस्ट सर्किट को और अधिक समृृद्ध पर्यटन रूट के रूप में विकसित करने के अभिनव प्रयास किए जाएंगे।

श्री अभिजात ने हाल ही में मुख्य सचिव श्री आलोक रंजन के साथ श्रावस्ती के दौरे से लौटकर बताया कि श्रावस्ती पिछले दिनों एक बड़े पर्यटक स्थल के रूप में उभर कर सामने आया है। पिछले वर्ष श्रावस्ती में 98 हजार पर्यटक आए जिनमें 57 हजार विदेशी पर्यटक थे। उन्होंने बताया कि श्रावस्ती के लिए जाने वाली फैजाबाद से आगे की सड़क के नव निर्माण के लिए मुख्य सचिव ने लोक निर्माण विभाग को समुचित निर्देश जारी कर दिए हैं कि इसे प्राथमिकता के स्तर पर तैयार किया जाए। इस सड़क को हाईवे की तर्ज पर ही तैयार करने की कोशिश की जाएगी। उन्हांेने बताया कि इस सड़क के बन जाने के बाद श्रावस्ती में पर्यटकों की आमद और बढ़ जाएगी। इसमें कुछ हिस्सा नेशनल हाईवे का भी है इसके लिए केंद्र सरकार को लिखा जाएगा।
महानिदेशक पर्यटन ने बताया कि श्रावस्ती के विकास की एक विस्तृृत कार्ययोजना भी जिला प्रशासन की ओर से तैयार की जा रही है और अगले वित्तीय वर्ष में इसको लागू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके तहत पर्यटकों की आवासीय समस्याओं का समुचित समाधान कर दिया जाएगा। उनके अनुसार श्रावस्ती को महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल होने के नाते अतिरिक्त बिजली की सप्लाई की जा रही है। इससे भी वहां पर्यटकों को ठहरने की प्रक्रिया में तेजी आई है।
श्री अभिजात ने बताया कि श्रावस्ती के पर्यटक गृृह में अष्टांगिका मार्ग, प्रार्थना स्थल, मेडिटेशन केंद्र, आठ काटेज और कई स्तरीय कमरे तैयार कराए जाएंगे।

Related posts

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More