जिला युवा कल्याण समिति की समीक्षा बैठक लेते सभा सचिव उत्तराखण्ड सरकार विक्रम सिंह नेगी

उत्तराखंड
देहरादून: प्रदेश के सिंचाई, बाढ़ नियंत्रण एवं लघु सिंचाई सभा सचिव (मंत्री स्तर) उत्तराखण्ड सरकार विक्रम सिंह नेगी ने आज विधान सभा स्थित सभागार में जिला युवा कल्याण एवं पी.आर.डी. समिति की बैठक की अध्यक्षता की।

बैठक में उन्होंने युवा कल्याण विभाग द्वारा पाईका के अन्तर्गत बनाये गये देहरादून के सभी विकास खण्डों के 10-10 खेल मैदानों की जाॅच करने के लिए तीन कमेटियों का गठन किया गया। जिसमें चकराता, कालसी और विकासनगर विकास खण्डों की जाॅच जिला योजना समिति के सदस्य कुन्दन सिंह नेगी व युवा कल्याण समिति के सदस्य दिवान सिंह तोमर को नामित किया गया। सहसपुर और रायपुर विकास खण्डाें के 20 खेल मैदानों की जाॅच युवा कल्याण समिति के उपाध्यक्ष अनूज गुप्ता व सदस्य रितेश क्षेत्री करेंगे। डोईवाला विकास खण्ड के  खेल मैदानों की जांच के लिए समिति कि उपाध्यक्ष अनूज गुप्ता व सुमित खन्ना को नामित किया गया है। जाॅच कमेटियों के सचिव क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारी होंगे जिन्हें युवा कल्याण विभाग अलग से नामित करेगा।
उन्होंने कहा कि देहरादून के ग्रामीण क्षेत्र के प्रत्येक गांव में युवा कल्याण विभाग द्वारा   छात्रों व युवाओं को खेलने के लिए बाॅलीबाल की दो-दो किट जिसमें बाॅलीबाल, नेट, पोल, हवा पम्प उपलब्ध कराये जायेंगे। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्र व बड़े ग्रामीण कस्बों में इण्डोर खेलों को बढावा देने के लिए टेबल टेनिस उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
बैठक में सदस्यों ने कहा कि विकास खण्ड व जनपद स्तर पर युवा कल्याण विभाग खेल व व्यायाम के लिए विशेषज्ञ अधिकारी का पद न होने के कारण विभाग से जुड़े युवा मंगल दलों व महिला मंगल दलों को खेल की सही जानकारी नहीं मिल पाति है। जिस पर समिति ने यह प्रस्ताव पारित किया कि राज्य के सभी विकास खण्डों में व्यायाम/खेल प्रशिक्षिक को मानदेय पर रखने के लिए मा0 मुख्यमंत्री को प्रस्ताव दिया जायेगा।
बैठक में उन्होंने कहा कि ब्लाॅक स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं में क्षेत्रीय विधायकों आमंत्रीत करने, प्रतिभागी युवाओं व महीलाओं को आयोजन स्थल तक टी.ए. डी.ए. का भुगतान करने, प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करने के लिए ग्राम सभाओं, महिला मंगल दलों, युुवक मंगल दलों व विद्यालयों को आमंत्रित करने की व्यवस्था करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।
बैठक में उपस्थित सदस्यों व अधिकारियों ने ब्लाॅक व जनपद स्तर पर होने वाले खेल आयोजनों में युवाओं की कम रूची होने का कारण न्यूनतम पुरस्कार राशि को बताया जिस पर श्री नेगी ने विवेकानन्द युवा पुरस्कार की राशि जनपद स्तर पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान के लिए क्रमस 1500,1000,व 500 से बढाकर 2000, 3000 व 5000 हजार रूपये करने व जनपद स्तर पर वर्तमान पुरस्कार राशि 5000, 3000 व 2000 से बढ़ाकर 10000, 6000 व 4000 करने का प्रस्ताव जिला योजना में प्रस्तावित करने के निर्देश जिला युवा कल्याण अधिकारी को दिये।
उन्होंने देहरादून जनपद में प्रस्तावित सात ग्रामीण व्यायामसालाओं का निर्माण शुरू ना होने पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कार्यदायी एजेन्सी, ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग को तत्काल भूमि हस्तान्तरण की प्रक्रिया पूरी करते हुए वित्तिय वर्ष में निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश दिये। इस वर्ष के वित्तिय वर्ष में प्रस्तावित व्यवसायिक प्रशिक्षण के मद में कोई धनराशि खर्च न होने पर  उन्होंने  अधिकारियों को फटकार लगाते हुए जिला युवा कल्याण अधिकारी को कड़े निर्देश दिये।  और प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए मार्च तक की डेट लाइन देते हुए युवाओं को जड़ी-बूटी के कृषि करण, मशरूम पालन व व्यवसायिक बकरी पालन का प्रशिक्षण दिलाने के निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि इस बार के साहासिक खेल टिहरी झील में सम्पन्न कराने के निर्देश   अधिकारियो को दिये। बैठक में उपस्थित सदस्य दिवान सिंह तोमर ने बताया की विभाग में चयनित क्षेत्रिय युवा समितियों व जिला युवा समितियों का 3 वर्षीय कार्यकाल समाप्त होने के  बाबजूद उन्हें विभाग ने अस्तित्व में रखा है। जिस पर श्री नेगी ने बैठक में मौजूद संयुक्त निदेशक शक्ति सिंह को कहा कि जिन समितियों का कार्यकाल पूरा हो गया है। उन्हें तत्काल भंग कर नये चुनाव कराने के निर्देश दिये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आलोक कुमार पाण्डे, जिला युवा कल्याण समिति के उपाध्यक्ष अनूज गुप्ता, सदस्य दिवान तोमर, सुमित खन्ना, अरूण बिष्ट, जिला योजना समिति के सदस्य कुन्दन सिंह नेगी, युवा कांग्रेस रणबीर रौंतेला एवं युवा कल्याण विभाग के जिला व विकास खण्ड स्तर के अधिकारी मौजूद थे।

Related posts

7 comments

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More