पुलिस उपनिरीक्षक/प्लाटून कमाण्डर पी0ए0सी0 एवं आरक्षी समकक्ष पदों की भर्तियां पारदर्शी एवं निष्पक्ष रुप से की जा रही है

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: उत्तर प्रदेश प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा उपनिरीक्षक नागरिक पुलिस/प्लाटून कमाण्डर पी0ए0सी0 एवं आरक्षी समकक्ष पदों की भर्तियां पारदर्शी एवं निष्पक्ष रुप से की जा रही है। भर्ती प्रक्रिया में नियमावली के अनुरुप परीक्षा अत्याधुनिक तकनीक का प्रयोग करते हुये अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के मानकों को अपनाकर सम्पन्न कराई गयी।

यह जानकारी आज यहां देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि पिछले चार वर्ष से लम्बित उपनिरीक्षक नागरिक पुलिस/प्लाटून कमाण्डर पी0ए0सी0 एवं आरक्षी समकक्ष पदों की सीधी भर्ती को अन्तिम रुप देने में उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा सफलता हासिल की गयी है। उपनिरीक्षक स्तर के 4010 व आरक्षी स्तर के 41610 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया अन्तिम चरण में पहुंच गई है। 22 लाख से अधिक लोगों ने आरक्षी स्तर की तथा सवां पांच लाख से भी अधिक लोगों ने उपनिरीक्षक स्तर की नौकरी पाने के लिए आवेदन किया था। आरक्षी के लिए अभ्यर्थियों की संख्या रिक्तियों से 53 गुना एवं उपनिरीक्षक के लिए अभ्यर्थियों की संख्या रिक्तियों से 132 गुना थी तथा दोनों भर्तियों में नियमावली के अनुरुप विभिन्न चरणों की लिखित एवं शारीरिक दक्षता परीक्षा, अत्याधुनिक तकनीकी का प्रयोग करते हुये अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के मानकों को अपनाकर सम्पन्न कराई गई।
प्रवक्ता ने बताया कि शारीरिक दक्षता परीक्षा (दौड़), अभ्यर्थी के पैर में इलेक्ट्रिनिक चिप बांधकर कम्प्यूटर एवं कैमरा सर्विलांस अपनाते हुए बाहरी एजेन्सी से कराई गयी। प्रत्येक अभ्यर्थी को उसके द्वारा कितने समय में दौड़ पूरी की गई तथा उसके द्वारा कितने अंक प्राप्त किये गये यह भी दर्शाया गया।
सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि दोनों भर्तियों में लिखित परीक्षा ओ0एम0आर0 स्कैनिंग पद्वति पर कराई गई है एवं प्रत्येक अभ्यर्थी को उसके द्वारा दिये गये उत्तरों की एक ओ0एम0आर0 प्रति उसके अपने रिकार्ड हेतु दी गयी है, ताकि उसके द्वारा दिये गये उत्तरों में कोई परिवर्तन न किया जा सके। प्रश्नों के उत्तर की कुंजी शुद्धि पश्चात पुनः बोर्ड की वेबसाइट पर प्रकाशित की गई, ताकि कोई भी अभ्यर्थी अपने अंको का आंकलन स्वयं कर सके एवं बोर्ड द्वारा दिये गये अंको से मिलान कर सके। इसमें किसी भी प्रकार की भिन्नता पाएं जाने पर अभ्यर्थी को आपत्ति दर्ज किये जाने का अवसर देते हुए उनका निराकरण किया गया। भर्ती के दौरान प्रत्येक स्तर पर नियमों में मानको के अनुरुप निर्धारित संख्या में श्रेष्ठता के आधार पर अग्रिम चरण में सम्मिलित करने का निर्णय लिया गया है।
उपनिरीक्षक नागरिक पुलिस/प्लाटून कमाण्डर भर्ती का परिणाम माननीय उच्च न्यायालय, इलाहाबाद में लम्बित याचिकाओं के अन्तिम निर्णय के अधीन घोषित किया गया है। भर्तियों के संबंध में मा0 न्यायालय से कोई अन्तरिम अथवा स्थगन आदेश नहीं था। सभी भर्तियां पारदर्शी एवं निष्पक्ष रुप से करते हुए लम्बवत एवं क्षैतिज आरक्षण के नियमों का पालन किया गया है। अभी तक एक भी प्रकरण बोर्ड के समक्ष नहीं आया है, जहां किसी भी अभ्यर्थी को अपने संबंधित वर्ग के कट आफ से अधिक अंक प्राप्त होने के बावजूद उसे प्रवेश पत्र न मिला हो अथवा किसी अभ्यर्थी को कट आफ से कम अंक प्राप्त होने के बावजूद बुलाया गया हो। बोर्ड कार्यालय में जो भी अभ्यर्थी अपनी आपत्ति दर्ज करा रहा है उसकी आपत्ति का निराकरण करते हुये उसे वास्तविकता से अवगत कराया जा रहा है। भर्तियों के संबंध में बोर्ड की वेबसाइट पर सूचना उपलब्ध है।

Related posts

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More